Pages

Followers

Sunday, October 21, 2012

gunahgar

गुनाहगार तो बस गुनाहगार रहेगा
आज बाहर तो कल अन्दर भी रहेगा
जुर्म शाबित न होने से क्या होता है
ज़माने की निगाह में गुनाहगार रहेगा |
डॉ अ कीर्तिवर्धन
8265821800


No comments:

Post a Comment